वैलेंटाइन डे पर कविता

हादसे रुह में उतर मसखरी करते हैं,
लफ्ज़ कागज़ पर उतर कर जादूगरी करते हैं।
जो सुख-दुख में साथ दें वो प्यार केे रिश्ते,
दिल में घर बनाया करते हैं।
एक दिन के प्यार का दिखावा करने वाले रिश्ते,
अक्सर टूट जाया करते हैं।
प्यार एहसास है जो जीवन की बगिया को महकाता है।
प्यार वह रिश्ता है जो एक दूसरेेेे जीव का समर्पण कहलाता है।
यह प्यार भााई-बहन ,माता-पिता ,
दोस्तों के सुख-दुख में हर पल देखा जाता है।
एक प्यार वैलेंटाइन डे को प्रकट हो जााता है,
जो सिर्फ लड़का लड़की में देखा जाता है,
यह अक्सर दैहिक वासना को दर्शाता है।
रोज डे, प्रपोज डे, चॉकलेट डे, टेडी बियर डे, प्रॉमिस डे
हग डे, किस डे प्यार जैसे पवित्र एहसास का
बाजारीकरण कर जाताा है।
इन वैलेंटाइन डे वालों का हर साल प्राय
वैलेंटाइन बदल जाता है।
इस दिन का दिखावा जीवन में समर्पित
रिश्तो के प्यार के सामने फीका पड़़ जाता है।
जीवन केेे सुख-दुख में हर पल साथ निभानें वाला वैलेंटाइन कहलाता है।

वीडियो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें-https://youtu.be/Dn3oQs27_9s


The Author

लेखक:- सविता रामभरोसे

नमस्कार वेबसाइट बाल संसार हिंदी में आपका स्वागत है।सविता जी जिन्होंने हिंदी विषय से  स्नातकोत्तर व बीएड की डिग्री अर्जित की है।श्री रामभरोसे जी ऐसे हैं। भई रामभरोसे 1998 में किसी तरह दसवीं कर पाये ,2006 में 12वीं कर आये, 2012 में स्नातक कर पाये, 2014 में अंग्रेजी साहित्य से स्नातकोत्तर की डिग्री ले आये। आर्टिकल में सब लिखने के बाद सविता जी से चेक करवाये बाल संसार हिंदी के वेब डेवलपर कंटेंट राइटर लेखक सभी की भूमिका यह अकेले ही निभाये। बस इतना ही है। कि आप इनके नाम से परिचित हो जाएं रामभरोसे समझकर इनका साथ निभाएं धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *